सरहद के कोने-कोने में गूंजा भारत माता का जयघोष
देश के त्योहारों के रखवाले हैं हमारे जांबाज सीमा प्रहरी : कुंवर विक्की
परिषद व शहीद परिवारों ने सरहद पर जवानों संग होली मना बढ़ाया मनोबल
गुरदासपुर,(राजदार टाइम्स): होली का त्योहार सारे देशवासी हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं मगर उड़ते गुलाल के गुबार में हम अक्सर उन्हें भूल जाते हैं जिन सीमा प्रहरियों की बदौलत हम यह रंगों का त्योहार मना पाते हैं। होली के इस पावन त्यौहार को यादगार बनाने हेतु शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने शहीद परिवारों को साथ लेकर भारत-पाक सीमा की जीरो लाईन पर बनी बीएसएफ की शहीद कमलजीत पोस्ट सिंबल पर जाकर जब जवानों संग होली खेली तो सरहद का कोना-कोना भारत माता की जय के जयघोष से गूंज उठा। चेहरे पर गुलाल व दिल में देशभक्ति का जज्बा लिए सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने शहीद परिवारों व छात्रों संग ‘‘यह देश है वीर जवानों का’’ जैसे देशभक्ति के गीतों पर भांगड़ा डालते हुए होली का जश्न मनाया। बी.एस.एफ की 121 बटालियन के कमांडेंट सुनील मिश्रा की अध्यक्षता में रंगों के इस त्योहार पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए परिषद के महासचिव कुंवर रविंद्र सिंह विक्की ने कहा कि आज देशवासी इन जांबाज सीमा प्रहरियों की बदौलत ही अपने सभी त्योहार हंसी खुशी मना पा रहे हैं। अपने घरों से हजारों मील दूर यह बहादुर जवान पूरी चौकसी के साथ अपनी ड्यूटी निभाते हुए पाकिस्तान की हर चुनौती का मुंह तोड़ जबाव दे रहे हैं ताकि देशवासी सुकून से अपने परिवार के साथ होली जैसे पावन त्योहार मना सकें। उन्होंने कहा हमारे जांबाज सीमा प्रहरी सही मायनों में हमारे त्योहारों के रखवाले हैं। ऐसे में समूह देशवासियों का यह फर्ज बनता है कि होली जैसे पर्व इन जवानों के साथ मनाकर इनका मनोबल बढ़ाते हुए इन्हें इनके परिवारों की कमी महसूस न होने दें। इस अवसर पर डिप्टी कमांडेंट आलोक सिंह नेगी, कंपनी कमांडर सहायक कमांडेंट विवेक कुमार, प्रिंसिपल डॉ.ज्योति ठाकुर, प्रो.रविंद्र सिंह, प्रो.वंदना, प्रो.मंजीत, समाज सेवक सुरेंद्र महाजन शिंदा, इंस्पेक्टर अमित कुमार, इंस्पेक्टर आर.डी भुटिया, एस.आई सुपयार, ए.एस.आई राणा प्रताप सिंह, ए.एस.आई सुखबीर सिंह, ए.एस.आई सुरेश कुमार, एच.सी भाखर राम, कांस्टेबल राबेका के सिंह, कांस्टेबल किरणदीप कौर, मास्टर मदन लाल आदि उपस्थित थे।
शहीद परिवार बोले-जवानों में दिखता है अपनों का अक्स
शहीद कर्नल के.एल गुप्ता के भाई सुरेंद्र गुप्ता, कारगिल शहीद लांसनायक हरीशपाल शर्मा की माता राज दुलारी व भाई सतीश शर्मा, वीर चक्र विजेता शहीद लांसनायक मेहर सिंह के बेटे परवीन कुमार, शहीद सिपाही दीवान चंद की पत्नी सुमित्रा देवी, शहीद सिपाही मक्खन सिंह के पिता हंस राज, शहीद सिपाही कुलदीप कुमार के पिता बंत राम, शहीद कांस्टेबल मनदीप कुमार के पिता नानक चंद ने नम आंखों से बताया बेशक अपनों को खोने के बाद ऐसे त्योहार उनके लिए कोई मायने नहीं रखते मगर आज अपने देश के जांबाज सीमा प्रहरियों के साथ होली का यह पर्व मनाकर उन्हें असीम शांति मिली है तथा वर्दी पहने इन जवानों में उन्हें वतन पर कुर्बान होने वाले जिगर के टुकड़ों का अक्स नजर आता है।
देश मनाए होली हम करेंगे रखवाली : कमांडेंट मिश्रा
कमांडेंट सुनील मिश्रा ने परिषद व शहीद परिवारों का आभार व्यक्त करते हुए कहा आप लोगों ने सरहद पर पहुंच हमारे जवानों के साथ होली मनाकर उनके मनोबल को और भी ऊंचा कर दिया है। उन्होंने कहा कि बेशक हमारे परिवार हमसे हजारों मील दूर बैठे हैं लेकिन इन वीर परिवारों ने हमें अपने परिवार की कमी महसूस नहीं होने दी। हम देशवासियों को यह भरोसा दिलाते हैं कि आप अपने परिवार के साथ खुशी-खुशी होली मनाएं हम तनदेही से सरहद की रखवाली करेंगे।
कमांडेंट ने शहीद परिवारों के चरणों का किया तिलक
होली के इस पावन त्यौहार पर शहीद सैनिक परिवार सुरक्षा परिषद के सदस्यों व शहीद परिवारों ने जहां सीमा सुरक्षा बल के जवानों व महिला सैनिकों को तिरंगे व मिठाई भेंट करते हुए उन्हें होली का गुलाल लगाया वहीं कमांडेंट सुनील मिश्रा ने शहीद परिवारों के चरणों को रंगों का तिलक करते हुए उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने कहा कि उनके चरण इस पोस्ट पर पडऩे से इसकी गरिमा और भी बढ़ गई है। उनके ऐसा करने से शहीद परिवारों की आंखें बरबस ही छलक उठीं। कमांडेंट मिश्रा ने इन परिवारों को भरोसा दिलाया कि बेशक उन्होंने अपने घर के चिराग वतन पर कुर्बान कर दिए हैं मगर सीमा सुरक्षा बल का हर जवान इनके बेटे के समान ही है और हम कभी भी इनके हौसलों को परास्त नहीं होने देंगे।

Previous articleहोली का त्यौंहार…
Next articleशहीद कमलजीत पोस्ट पर बने स्मारक पर शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव को श्रद्धासुमन अर्पित करते कमांडेंट मिश्रा, रविंद्र विक्की, ज्योति ठाकुर व अन्य।