राष्ट्र के सर्वांगीण विकास हेतु महिला सशक्तिकरण अत्यावश्यक : प्रिया
सभ्याचारक रंग मंच द्वारा महिला जागरूकता शिविर का किया आयोजन
हाजीपुर,(राजदार टाइम्स): सामाजिक एवं सांस्कृतिक संगठन सभ्याचारक रंग मंच द्वारा महिला सशक्तिकरण अभियान के अधीन जागरूकता कार्यकरमों का आयोजन किया जा रहा है। के.सी कंप्यूटर संधवाल में एम.डी कर्म चंद के नेतृत्व में आयोजित महिला जागरूकता कार्यक्रम में शिक्षाविद अंजलि ने कहा कि एक राष्ट्र का सर्वांगीण व समरसता पूर्ण विकास तभी संभव है। जब महिलाओं को समाज में उनका यथोचित स्थान व पद दिया जाए। उन्हें पुरुषों के साथ-साथ विकास की सहभागी माना जाए। सशक्तिकरण के अंतर्गत महिलाएँ अपने आर्थिक स्वावलम्बन, राजनैतिक भागीदारी व सामाजिक विकास के लिए आवश्यक विभिन्न कारकों पर पहुँच व नियंत्रण प्राप्त करती हैं। उन्होंने कहा कि आज के समय में महिलाएँ आईपीएस अधिकारी, डॉक्टर, वकील, जज व राजनीतिज्ञ सभी कार्यालयों एवं दफ्तरों में पदासीन हैं। भारत के स्वतंत्रता संग्राम में महिलाओं ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। आधुनिक युग में महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार प्राप्त हैं। प्रिया ने कहा कि महिलाओं की स्थिति में सुधार-समय बीतने के साथ सरकार ने महिलाओं की स्थिति सुधारने के लिए कई कानून बनाए। स्त्री शिक्षा को अनिवार्य किया गया। लडक़ी की मर्जी के बगैर शादी पर प्रतिबंध लगाया गया। तलाक को कानूनी दर्जा दिया गया। अब महिलाएँ अपनी मर्जी के अनुसार किसी भी हुनर के लिए ट्रेनिंग ले सकती थीं। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा व कौशल के माध्यम से महिलाओं को व्यवसाय की ओर प्रोत्साहित कर इन्हे आर्थिक रूप से सुदृढ़ किया जा सकता है। विशेषकर कृषि प्रसंस्करण उद्योगों, बैंकिंग सेवाओं और डिजिटलीकरण की सहायता से महिलाओं के सामाजिक और वित्तीय सशक्तिकरण की शुरुआत की जा सकती है।

Previous articleएसपीएन कॉलेज में अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य दिवस पर किया गया कार्यक्रम आयोजित
Next articleभाजपा का स्थापना दिवस मनाते जिलाध्यक्ष अजय कौशल व अन्य