फरीदकोट,(विपन मितल): 16 दिसम्बर को मलमास लग गया है जो आगामी 13 जनवरी 2024 तक जारी रहेगा। इस दौरान हिंदू शास्त्रों के मुताबिक कोई भी शुभ मंगलमय कार्य जैसे नए गृह प्रवेश, भूमि पूजन, दुकान यक्षोपवीत, मुंडन और विशेषकर सगाई व शादियां रचना वर्जित माना गया है। इससे अब 16 दिसम्बर से 13 जनवरी तक न तो शादियां होंगी और न ही शहनाइयां बजेंगी। पंडित शिव कुमार शर्मा के अनुसार भारत के सनातन धर्मों के लोग मलमास लगने से अपने बच्चों की शादियां नहीं करते हैं क्योंकि वह अपने बच्चों की शादियां शुभ मुहूर्त में ही रचना पसंद करते हैं। इस मास में सभी प्रकार के शुभ कार्य करना शास्त्रानुसार निषेध माना गया हैं।

Previous articleਕ੍ਰਿਸ਼ਨਾ ਵੰਤੀ ਸੇਵਾ ਸੁਸਾਇਟੀ ਨੇ ਸ਼ਹੀਦੀ ਦਿਹਾੜੇ ਤੇ ਲੋੜਵੰਦਾਂ ਨੂੰ ਗਰਮ ਕੰਬਲ ਵੰਡੇ: ਸੁਰੇਸ਼ ਅਰੋੜਾ
Next articleਵਿਕਸਿਤ ਭਾਰਤ ਸੰਕਲਪ ਯਾਤਰਾ ਜਿਲਾ ਜਲੰਧਰ ਵਿਧਾਨ ਸਭਾ ਹਲਕਾ ਆਦਮਪੁਰ ਦੇ ਪਿੰਡ ਬੋਲੀਨਾ ਦੋਆਬਾ ਵਿਖੇ ਪਹੁੰਚੀ