दातारपुर,(एसपी शर्मा): प्रभु यीशू मसीह पृथ्वी पर किसी धर्म की स्थापना करने के लिए नहीं, बल्कि मनुष्यों के पापी दिलों को बदलने के लिए आए थे। श्री व्योमकेशा इंटरनेशनल स्कूल झीर दा खूह में एमडी प्रमोद योगी ने क्रिसमस पर समारोह में अपने संबोधन में कहा कि पाप के कारण मनुष्य और परमेश्वर के बीच का जो रिश्ता टूट गया था, उसे जीसस पुन: जोडऩे आए थे प्रभु यीशू। इस कार्य को पूरा करने के लिए प्रभु यीशू मसीह ने भूखे को रोटी, नंगे को कपड़े, बेघर को घर, बीमारों की तीमारदारी जैसे एजैंडे से लोगों को अवगत करवाकर विश्व में आपसी भाईचारे, प्रेम व शांति का संदेश दिया। सांता क्लॉज़ की पोशाक पहने लिटिल चैंप्स ने पूरे स्कूल परिसर को खुशी से भर दिया। छात्रों ने क्रिसमस पर तीनों भाषाओं (हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी) में भाषण दिए। जिंगल बेल्स पर लिटिल चैम्प्स द्वारा समूह नृत्य ने विद्यालय के वातावरण को मधुर बना दिया। इस अवसर पर प्रथम योगी, प्रिंसिपल रंजना देवी पायल शर्मा, सोनिया योगी, अक्षय योगी, दीपिका, व्यासदेव, नीरज, साक्षी, सोनिया, आशा, मेघा, सुषमा, शिल्पा, नेहा, कल्पना, रेखा, गुरप्रीत कौर, पूजा, जीवन, जीवन-ज्योति, चंद्र ज्योति, हरविंदर, रूपम, साक्षी, कोमल प्रीत, रंजना आदि के अलावा अन्य भी उपस्थित थे ।

Previous articleअब्दुल्ला से राष्ट्रविरोधी बातें फैलाना बंद करने को कहा
Next articleनशे से दूर, बनेंगे योग्य नागरिक लिया संकल्प