लुधियाना ब्रेवरेज कोका कोला के सहयोग से नेत्रहीन स्कूल बाहोवाल को डिस्पोजेबल आईट्मस बनाने वाली दो मशीने की भेंट

सोसायटी की ओर से विद्यार्थियों स्टाफ को डिस्पोजेबल बनाई की दी गई बाकायदा ट्रेनिंग

स्कूल को 10 स्कूल बैग किट्स दो वाटर फिल्टर भी किए भेंट

होशियारपुर,(राजदार टाइम्स): समाज में जरुरतमंद लोगों की मदद के लिए हमेशा अग्रणी जिला रैडक्रास सोसायटी की ओर से समय-समय पर ऐसे कई प्रोजैक्ट चलाए जा रहे हैं।जिससे जरुरतमंदों को नई दिशा मिली है। इसी कड़ी में डिप्टी कमिश्नर-कम-अध्यक्ष जिला रैडक्रास सोसायटी कोमल मित्तल के नेतृत्व में रैडक्रास सोसायटी ने लुधियाना ब्रेवरेज प्राइवेट लिमिटेड होशियारपुर के सहयोग से 108 संत नारायण दास जी नेत्रहीन स्कूल बाहोवाल (माहिलपुर) में डिस्पोजेबल आइट्मस बनाने के लिए 2 मशीने उपलब्ध करवाई गई हैं ताकि नेत्रहीन बच्चे अपने पैरों पर खड़े हो सकें। इस प्रोजैक्ट का उद्घाटन सहायक कमिश्नर दिव्या.पी (आई.ए.एस) की ओर से किया गया। इस दौरान सोसायटी की ओर से स्कूल को 10 स्कूल बैग किट्स व दो वाटर फिल्टर भी किए भेंट किए गए। जानकारी देते हुए सचिव जिला रैडक्रास सोसायटी मंगेश सूद ने बताया कि ब्लाइंड एंड हैंडीकैप्ड डेवलेपमेंट सोसायटी बाहोवाल की ओर से 14 नेत्रहीन बच्चों को ज्ञान, कला व संगीत की शिक्षा दी जा रही है। अब इन बच्चों को रोजगार के काबिल बनाने के लिए रैड क्रास सोसायटी की ओर से इस सोसायटी में लुधियाना ब्रेवरेज प्राइवेट लिमिटेड (कोका कोला) के सहयोग से सोसायटी को फुली आटोमैटिक मशीने व कच्चा माल मुहैया करवाया गया है। कंपनी व रैडक्रास स्टाफ इन नेत्रहीन बच्चों व स्कूल के स्टाफ को मशीन चलाने, समान बनाने व पैक करने की उचित ट्रेनिंग दी गई है। इन दो मशीनों के माध्यम से 8 घंटे में करीब 20 हजार डिस्पोजेबल आइट्स बनाई जा सकती है। उन्होंने बताया कि रैडक्रास की ओर से चलाए जा रहे ‘विंग्स’ प्रोजैक्ट की कैंटीनों में रोजाना तौर पर इस्तेमाल होने वाली डिस्पोजेबल प्लेटों व ग्लासों की गिनती को ध्यान में रखते हुए 10 हजार का पहला आर्डर सोसायटी को दे दिया गया है। इसी तरह नेत्रहीन बच्चों द्वारा बनाया गयया समान विंग्स प्रोजैक्ट के स्पैशल बच्चों द्वारा खरीदा जाएगा। इस प्रोजैक्ट को सफल बनाने के लिए समय-समय पर योग्य नेतृत्व व अन्य आर्डर बुक करने में भी रैडक्रास की ओर से सहायता प्रदान की जाएगी। गौरतलब है कि डिप्टी कमिश्रर की अध्यक्षता में जिला रैड क्रास सोसायटी होशियारपुर मानसिक व शारीरिक रुप से अविकसित व असमर्थ बच्चों को रोजगार के काबिल बनाने के लिए नए प्रोजैक्ट चला रही है।सोसायटी की ओर से पहले से ही मानसिक तौर पर अविकसित बच्चों (स्पैशल बच्चों) के लिए ‘विंग्स’ नाम का एक बेहतरीन प्रोजैक्ट चलाया जा रहा है, जिसके माध्यम से अलग-अलग स्थानों पर कैंटीने खोलकर इन स्पैशल बच्चों को रोजगार दिया गया है। इस मौके पर जिला विकास फैलो जोया सिद्दीकी, रोजगार विभाग से आदित्य राणा, मैनेजर कोका कोला गुरमीत सिंह, रैडक्रास कार्यकारिणी सदस्य राजीव बजाज, सर्बजीत सिंह, कुलवीर कौर, गुरमीत कौर, ब्लाइंड एंड हैंडीकैप्ड डेवलेपमेंट सोसायटी बाहोवाल के अध्यक्ष मास्तर अतर सिंह व विकास सलूहा भी उपस्थित थे।

Previous articleਐਸਪੀਐਨ ਕਾਲਜ ਦੀ ਪ੍ਰਬੰਧਕ ਕਮੇਟੀ ਨੇ ਸ੍ਰੀਮਤੀ ਮੀਨਾਕਸ਼ੀ ਆਨੰਦ ਨੂੰ ਕੀਤਾ ਸਨਮਾਨਿਤ
Next articleएमएसपी की गारंटी देकर पलटी भगवंत मान सरकार को जनता वोट से देगी जवाब : मंड