माता चिंतपूर्णी मेला: लंगर के दौरान नहीं होगा डीजे सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग

डिप्टी कमिश्नर ने लंगर कमेटियों के साथ बैठक के दौरान लिया निर्णय

श्रद्धाुलु भार ढोने वाले वाहनों का करें प्रयोग

मेले को सफल बनाने के लिए लंगर कमेटियों संगठनों को जिला प्रशासन के सहयोग का किया आह्वान

डिप्टी कमिश्नर ने जिला प्रशासन की ओर से पुख्ता प्रबंध यकीनी बनाने का दिया भरोसा

होशियारपुर,: 17 से 25 अगस्त तक चलने वाले माता चिंतपूर्णी मेले में इस बार लंगर के दौरान डी.जे. व सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग नहीं किया जाएगा। यह फैसला जिला प्रशासकीय कांप्लेक्स में डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल ने विभिन्न लंगर कमेटियों के साथ बैठक के दौरान लिया। उन्होंने कहा कि माता चिंतपूर्णी मेले में लंगर लगाने के दौरान सफाई व्यवस्था बरकरार रखनी भी यकीनी बनाई जाए, ताकि वातावरण दूषित न हो सके। मेले को सुचारु रुप से चलाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी। डिप्टी कमिश्नर ने इस दौरान लंगर कमेटियों से अपील करते हुए कहा कि निर्विघ्न यातायात के लिए लंगर कमेटियों की ओर से सडक़ पर आकर लंगर न वितरित किया जाए व निर्धारित स्थान पर ही लंगर लगाए जाएं। उन्होंने भरोसा दिलाते हुए कहा कि माता चिंतपूर्णी मेले को सफल बनाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से पुख्ता प्रबंध यकीनी बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि लंगर लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन जरुरी है, इस लिए लंगर कमेटियों की ओर से यह रजिस्ट्रेशन एस.डी.एम कार्यालय होशियारपुर से करवाई जा सकती है। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मोबाइल शौचालय आदि का प्रबंध करने के अलावा स्वास्थ्य सुविधाएं भी प्रदान की जाएंगी। उन्होंने लंगर कमेटियों को सफाई व्यवस्था बरकरार रखने की अपील करते हुए कहा कि भारत सरकार व पंजाब सरकार की ओर से सिंगल यूज प्लास्टिक बैन किया गया है, इस लिए लंगर के दौरान प्लास्टिक का प्रयोग न किया जाए। कोमल मित्तल ने श्रद्धालुओं से अपील करते हुए कहा कि वे भार ढोने वाले वाहनों को न प्रयोग करें। इस तरह के वाहनों से हमेशा दुर्घटना का खतरा बना रहता है। लंगर कमेटियों व श्रद्धालुओं के सहयोग से मेले को सुचारु रुप से चलाने में कोई दिक्कत नहीं आने दी जाएगी। इस मौके पर उनके साथ अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (सामान्य) राहुल चाबा, एस.पी (मुख्यालय) मंजीत कौर, एस.डी.एम होशियारपुर प्रीतइंदर सिंह बैंस, सहायक कमिश्नर (सामान्य) व्योम भारद्वाज के अलावा भारतीय सनातन धर्म महावीर दल, मईया जी असीं नौकर तेरे, चिंतपूर्णी सेवा दल बाल कृष्ण रोड, चिंतपूर्णी सेवा कमेटी बाल कृष्ण रोड, जय मां चिंतपूर्णी लंगर कमेटी, माता चिंतपूर्णी सेवा सोसायटी वैष्णो धाम, सफाई कमेटी, स्वच्छता का लंगर सेवा सोसायटी के प्रतिनिधि व अन्य विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Previous articleਸਿਹਤ ਮੰਤਰੀ ਬਲਬੀਰ ਸਿੰਘ ਨੇ ਹੜ੍ਹਾਂ ਦੋਰਾਨ ਸਿਹਤ ਵਿਭਾਗ ਦੀ ਕਾਰਗੁਜਾਰੀ ਅਤੇ ਕੀਤੇ ਗਏ ਪ੍ਰਬੰਧਾਂ ਦਾ ਲਿਆ ਜਾਇਜਾ
Next articleपाक में अल्पसंख्यकों की सुरक्षित नहीं बहन बेटीयां, धर्मांतरण चर्म पर : खन्ना