भ्रष्टाचार में लिप्त विपक्षी गठबंधन के आधे नेता जेल में आधे बेल पर, अब केजरीवाल की बारी : तरुण चुघ
कांग्रेस सांसद के अलग देश को बनाने की दुर्भाग्यपूर्ण मांग को लेकर राहुल, सोनिया एव खड़गे चुप क्यों
चंडीगढ़, (राजदार टाइम्स): भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुघ ने कांग्रेसी सांसद द्वारा अलग देश की मांग किए जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे, सोनिया गांधी व राहुल गांधी पर बरसते हुए कहा कि कांग्रेसी सांसद की इस दुर्भग्यपूर्ण मांग के पीछे कांग्रेस की देश बांटो राज करो की नीयत व नीति स्पष्ट हो गई है। क्यूंकि अलग देश की मांग वाले ब्यान पर खड़गे, सोनिया तथा राहुल गांधी की चुप्पी इस बात को स्पष्ट करती है कि कांग्रेस आज भी भारत को बांटने की साजिश रच रही है। चुघ ने कहा कि तीन दिन पहले कांग्रेस के सांसद डी. के. सुरेश ने अलग देश बनाने की मांग की है। चुघ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लिए कश्मीर से। लेकर कन्याकुमारी तक सम्पूर्ण देश एक है, हम उत्तर और दक्षिण भारत में कोई भेद नहीं करते। कल राज्यसभा में इस मुद्दे पर कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे तक एक शब्द नहीं बोले। इसके पीछे कांग्रेस की देश बांटो की नीयत तथा नीति स्पष्ट नजर आ रही है। कांग्रेस को इस बारे में अपना जवाब स्पष्ट करना चाहिए।तरुण चुघ ने कहा कि कांग्रेस कार्यकाल में भारत की छवि एक भ्रष्टाचारी, पिछड़े, अपने पांव पर खड़ा ना हो सकने वाले और अपने स्वाभिमान के साथ समझौता कर लेने वाले देश की थी। लेकिन आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पिछले 10 वर्षों में भारत को एक गौरवशाली, मजबूत और निर्णायक राष्ट्र के रूप में प्रतिष्ठित किया है। कांग्रेस जातिवाद और वोटबैंक की राजनीति करती थी, मगर आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार में अब रिपोर्ट कार्ड की राजनीति चलती है। भाजपा ने जो कहा था वो किया है, जो नहीं कहा था वो भी करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे चुनाव निकट आता है, कांग्रेस और विपक्ष को जाति जनगणना की याद आती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि देश में सिर्फ चार जातियां हैं, गरीब, युवा, अन्नदाता और नारी शक्ति (GYAN)। इन चार जातियों का भला हो जाएगा, तो समस्त जातियों का कल्याण हो जाएगा। इसलिए भाजपा की सारी योजनाएं इन्हीं के कल्याण पर केंद्रित है। तरुण चुघ ने कहा कि किसी ने ये सोचा नहीं था कि श्री रामलला अपने स्थान पर ही विराजमान होंगे और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के कर-कमलों से भव्य मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होते देखने का सौभाग्य हम सबको मिलेगा, लेकिन 500 वर्षों के इस संघर्ष को भी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पूर्ण विराम तक पहुंचाया। उन्होंने कहा कि कई विपक्षी नेता कहते हैं कि बाढ़ आई पर जनता को कोई मदद नहीं मिली, परंतु त्रासदी होने पर कांग्रेस का कोई भी नेता राज्य में नहीं आया लेकिन वोट मांगने के लिए पहुंच ही जाते हैं। लेकिन इसके विपरीत जहाँ-जहाँ त्रासदी हुई, वहां भाजपा नेता सहायता के लिए पहुंचे। चुघ ने कहा कि बाढ़ आने पर कुल मिलाकर हिमाचल प्रदेश को राहत के लिए 1782 करोड़ रुपये प्रदान किये गए। तकलीफ के समय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने ही राज्य की जनता की चिंता की। आपदा आने पर जिनके घर टूटे थे, चिट्ठी लिखने पर ग्रामीण विकास मंत्री ने 11 हजार घर स्वीकृत किये। यह सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ने ही किया है, ना कि कांग्रेस ने। विश्व आज अगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सम्मान देता है और उन्हें ग्लोबल लीडर का दर्जा देता है तो उसके पीछे बहुत से निर्णायक कारण व तथ्य हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार झूठे वादों पर जनता को मूर्ख बना कर राजनीति करती है। लेकिन राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में जनता ने कांग्रेस के झूठे वादों को नकार कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास पर भरोसा जताते हुए तीन राज्यों में भाजपा की पूर्ण बहुमत से सरकारें बनाई और अपने प्रदेश व अपने विकास को सुनिश्चित किया। चुघ ने कहा कि राहुल गाँधी जिस भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर निकले हैं, वह असल में भारत तोड़ो न्याय यात्रा है। राहुल गांधी रोजाना कोई नया ड्रामा कर लोगों का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश में लगे हैं।

Previous articleअजय कौशल सेठू व जंगी लाल महाजन अमोलक हुन्दल को सिरोपा देते हुए
Next articleमीटिंग के दौरान कर्नल जोगिंदर शर्मा अध्यक्ष, चौधरी कुमार सैनी महासचिव व अन्य सदस्य