‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ में जन भागीदारी भारत को विकसित राष्ट्र बनाने की प्रतिबद्धता: सोम प्रकाश
केंद्रीय राज्य मंत्री ने गांव अजड़ाम में विकसित भारत संकल्प यात्रा संबंधी आयोजित कार्यक्रम में की शिरकत
सोम प्रकाश वर्चूअल व गांव वासियों ने वैब कास्टिंग के माध्यम से वी.बी.एस.वाई पर प्रधानमंत्री को सुना
होशियारपुर,(राकेश राणा): केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने कहा कि वर्तमान में भारत जिस गति से हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है, उस हिसाब से 2047 से पहले देश विकसित भारत बन जाएगा। वे गांव अजड़ाम में ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ वैन के पहुंचने पर आयोजित समागम में गांव वासियों को संबोधित कर रहे थे। देश के कुछ हिस्सों में ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ के लाभार्थियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बातचीत को एन.आई.सी की ओर से गांव में वैब कास्टिंग के माध्यम दिखाया गया। केंद्रीय राज्य मंत्री के अलावा सैंकड़ों की संख्या में जुटे लोगों ने प्रधानमंत्री को सुना।केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि जिस तरह से लोग इस संकल्प यात्रा से जुड़ रहे हैं, वह भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने की उनकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। उन्होंने बताया कि विकसित भारत संकल्प यात्रा (वी.बी.एस.वाई) वर्तमान में होशियारपुर सहित पंजाब के कई जिलों में चल रही है, जिसके अंतर्गत सूचना सामग्री, वाीडियो आदि वाली वैन लोगों को केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में जागरुक कर रही है, जिसके माध्यम से योग्य लाभार्थियों को उनके दरवाजे तक विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाया जा रहा है।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का निरंतर प्रयास रहा है कि केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम योग्य लाभार्थी तक पहुंचे। उन्होंने केंद्र द्वारा प्रत्येक देशवासी को लाभान्वित करने वाली विभिन्न योजनाओं पर भी विस्तार से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कुछ लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड सौंपे। प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की महिला लाभार्थियों में से एक ने योजना के अंतर्गत वित्तिय मदद से अपना घर बनाने में सक्षम होने पर खुशी व्यक्त की। उन्होंने ड्रोन को उड़ते हुए देख और उत्सुकता से सुना कि ड्रोन कैसे किसानों के कृषि कार्य में कैसे मदद करेगा। भारत सरकार अपनी नई योजना के अंतर्गत कृषि में ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने आज प्रधानमंत्री महिला किसान ड्रोन केंद्र का उद्घाटन किया है। यह महिला स्वंय सहायता समूहों (एस.एच.जी) को ड्रोन प्रदान करेगा ताकि वे इस तकनीक का उपयोग आजीविका सहायता के लिए कर सकें। उन्होंने बताया कि अगले तीन वर्षों के दौरान महिला स्वंय सहायता समूहों को 15,000 ड्रोन उपलब्ध करवाए जाएंगे। महिलाओं को ड्रोन उड़ाने और उपयोग करने के लिए आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। यह पहल कृषि में प्रौद्योगिकी के उपयोग को प्रोत्साहित करेगा। इस मौके पर पूर्व मंत्री तीक्ष्ण सूद, बीबी महिंदर कौर जोश, डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल, एस.एस.पी सुरेंद्र लांबा, ए.डी.सी (ग्रामीण विकास) बलराज सिंह, एस.डी.एम होशियारपुर प्रीतइंदर सिंह बैंस, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के फील्ड प्रचार अधिकारी राजेश बाली सहित, डी.आई.ओ प्रदीप सिंह, सहायक सिविल सर्जन डॉ.पवन कुमार, डिप्टी मैडिकल कमिश्नर डॉ.हरबंस कौर, बी.डी.पी.ओ सुखविंदर सिंह, सरपंच भूपिंदर सिंह पप्पू सहित विभिन्न विभागों के प्रमुख मौजूद थे।

Previous articleबोले,कांग्रेस सहित ग़ैर भाजपा दल हमेशा ही करते आए हैँ तुष्टिकरण की नीति
Next articleप्रतियोगिता के दौरान विजेताओं के साथ प्रिंसीपल शबनम कौर, मानव सैनी व फैकल्टी सदस्य