दसूहा,(राजदार टाइम्स): जे.सी डी.ए.वी कॉलेज के इंटरनल क्वालिटी ऐस्श्योरेंस सेल द्वारा प्रिंसिपल प्रो.कमल किशोर के कुशल नेतृत्व में कैमिस्ट्री विभाग के सहयोग से ‘नकारात्मकता एवं दबाव को नियंत्रित करने तथा सकारात्मकता बढ़ाने के उपाय’ विषय पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया। जिसके मुख्य वक्ता बी.के बबल सैटिट, प्रोफेसर, इंजीनियरिंग कॉलेज ऑस्ट्रेलिया और काउंसलर नेशनल चैरिटी ऑस्ट्रेलिया थे। इंटरनल क्वालिटी एस्श्योरेंस सेल के कॉर्डिनेटर डॉ.भानु गुप्ता ने छात्रों एवं शिक्षकों के लिए आयोजित सेमिनार की प्रासंगिकता पर चर्चा की और पूरे सेमिनार की रूपरेखा बताई। वाईस प्रिंसिपल प्रो.राकेश महाजन ने मुख्य वक्ता प्रोफेसर बी.के बबल सैटिट और उनके साथ आए अतिथियों का औपचारिक स्वागत करते हुए उनके व्यक्तित्व और मिशन के बारे में बताया। मुख्य वक्ता प्रोफेसर बी.के बबल सैटिट ने ‘नकारात्मकता और दबाव को कैसे नियंत्रित करें और सकारात्मकता कैसे बढ़ाएं’ विषय पर जानकारी देते हुए कहा कि आज हर व्यक्ति किसी न किसी तरह से मानसिक दबाव और तनाव से पीडि़त है। जिसका कारण उसके आस-पास का माहौल नकारात्मक होता है। परिणामस्वरूप वह आत्महत्या और नशे जैसी बुराइयों को अपना लेता है। इसलिए उन्होंने तनाव और दबाव को कम करने के लिए सकारात्मकता लाने के लिए योग व ध्यान के महत्व पर जोर दिया। इस उपलक्ष्य पर ब्रह्म कुमारी सदस्यों ने श्रोताओं को व्यावहारिक रूप से ध्यान और योग का प्रशिक्षण दिया। डॉ.गिरीश कुमार ने अतिथियों को धन्यवाद दिया तथा मंच संचालन की भूमिका बखूबी निभाई। इस अवसर पर ब्रह्म कुमारी सुमन दीदी वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका, ब्रह्म कुमारी स्मृति, ब्रह्म कुमार अमरजीत सिंह, ब्रह्म कुमार अरुण शर्मा एवं ब्रह्म कुमारी डिम्पल उपस्थित थे।

Previous articleएसपीएन कॉलेज के बायोलॉजी विभाग ने दिखाया फ्लावर शो
Next articleਬੇਆਸਰਿਆਂ ਦਾ ਆਸਰਾ ਸਰਬੱਤ ਦਾ ਭਲਾ ਆਸ਼ਰਮ ਨੰਦਾਚੌਰ ਦਾ ਸੰਤਾਂ ਮਹਾਂਪੁਰਸ਼ਾਂ ਨੇ ਕੀਤਾ ਉਦਘਾਟਨ