सरकार तुहाडे द्वार’
सार्वजनिक शिकायत निवारण कैंप के दौरान विधायक घुम्मण व डिप्टी कमिश्नर ने सुनी लोगों की शिकायतें
कमाही देवी में 15 गांवों के लोगों की शिकायतों का किया गया निपटारा
कमाही देवी,(राकेश राणा): मुख्य मंत्री पंजाब भगवंत सिंह मान की हिदायतों पर लोगों को अलग-अलग सरकारी सेवाएं उनके घरों के नजदीक मुहैया करवाने के लिए शुरु किए गए ‘सरकार तुहाडे द्वार’ अभियान के अंतर्गत आज जिला प्रशासन होशियारपुर की ओर से कमाही देवी में सार्वजनिक शिकायत निवारण कैंप लगाया गया। इस दौरान विधायक कर्मवीर सिंह घुम्मण व डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठकर 15 गांवों के लोगों की शिकायतें सुनी व ज्यादातर का मौके पर ही निपटारा किया। कैंप का उद्घाटन महंत राजगिरि जी कमाही देवी की ओर से किया गया। इस दौरान एस.डी.एम मुकेरियां अशोक कुमार व अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। विधायक कर्मवीर सिंह घुम्मण ने बताया कि मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान के निर्देशों पर प्रदेश के अलग-अलग गांवों में ऐसे शिकायत निवारण कैंप लगाए जा रहे हैं, जहां आस-पास के गांवों के लोगों की समस्याएं सुनी जाती हैं और उनका मौके पर ही निपटारा किया जाता है। उन्होंने कहा कि इसी कड़ी के अंतर्गत आज गांव कमाही देवी में लगाए गए इस कैंप में जिले के अलग-अलग विभागों की ओर से आस-पास के करीब 15 गांवों के लोगों की शिकायतें सुनी गई। उन्होंने कहा कि ऐसे शिकायत निवारण कैंप के माध्यम से सभी विभागों के अधिकारी लोगों तक पहुंच कर उनकी समस्याओं का हल कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस दौरान गांवों के लोगों की अलग-अलग विभागों से संबंधित शिकायतें सुनी गई व विभागों के अधिकारियों ने मौके पर ही प्रार्थना पत्र प्राप्त कर बनती कार्रवाई की। डिप्टी कमिश्नर कोमल मित्तल ने बताया कि आज के शिकायत निवारण कैंप में ज्यादातर शिकायतों का मौके पर ही निपटारा किया गा व जिन शिकायतों का मौके पर निपटारा नहीं हुआ, उनका जल्दी ही संबंधित विभाग की ओर से निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस दौरान अलग-अलग विभागों से संंबंधित 150 के करीब प्रार्थना पत्र आए, जिनमें से 90 का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। उन्होंने कहा कि जिले में ऐसे कैंप लगते रहेंगे, ताकि लोगों की समस्याएं उनके घरों के नजदीक ही हल की जा सकें। इस दौरान स्व सहायता ग्रुपों की ओर से अलग-अलग उत्पादों की प्रदर्शनियां व स्टाल भी लगाए गए।इस मौके पर नायब तहसीलदार ओंकार सिंह, एस.एच.ओ तलवाड़ा हरगुरदेव सिंह, एस.एच.ओ दसूहा जसविंदर सिंह, एस.एच.ओ हाजीपुर दविंदर पुरी, गुरबचन डडवाल, रविंदर मेहता, रमन गोल्डी, राहुल शर्मा, शादी लाल, जरनैल सिंह, जनमजीत सिंह व अन्य गणमान्य भी मौजूद थे।

Previous articleमान सरकार के शासन में टूट चूका हैँ पंजाब आर्थिक रूप से
Next articleਜ਼ਿੰਦਗੀ ਨੂੰ ਹਾਂ, ਨਸ਼ਿਆਂ ਨੂੰ ਨਾਂਹ’